WeDesi – Parvaah Ki Lau

WeDesi – Chennai


Band Profile: WeDesi
Song Title: परवाह की लौ
Language: Hindi
Duration: 3 min 23 sec
Genre: Other
Song Creation Date: March 14, 2012
Found Deshraag through: Deshraag Volunteer
Feedback on Deshraag:

One of a kind competition. Truly an amazing endeavour.

Lyrics:

जाती-धर्म के नाम पर उसने कर दिया तुम पर प्रहार,
तुमने मीलों दूर बैठे ले लिया सारे समाचार |

घावों को सहला के तुम क्यों सहेते हो,
शर्मिंदगी में छुप के तुम ये कहेते हो,

क्या परवाह सब चलता है चलने दो,
दो और मरे उनको मरने दो |

बूँद बरसे एक ही जब सब के माथे पर,
झगड़ो फिर क्यों तुम जल विवाद को लेकर |
खून अपने भाई का जला के क्या मिला,
तेरे जैसे रंग उसका लाल ही तो था |

असतो मा सतगामय, तमसो मा ज्योतिर्गमय |

बरसों से है संभाले जो धरती बोझ तेरा,
तेरे कन्धों पर कहीं उसका बोझ न रह जाए |

दिल में एक नयी लौ को जला,
आज़ाद भारत को आज़ादी का मतलब सिखा |

Skip to toolbar
Contact Us